Page and Post creation

Page and Post creation : अभी तक आपने देखा कि कैसे हम हमारी वेबसाइट के लिए pages बना सकते हैं हमने अब तक जो page बनाये हैं जैसे central govt, state govt, bank etc तो इन pages में हमे content डालना होगा जैसे central govt की कितनी भर्तिया किस किस पद पर किस विभाग में निकली हैं और उनकी अंतिम तिथि, शैक्षणिक योग्यता, चालान फीस आदि कि जानकारी हमे समय समय पर Update करते रहना होगी| इसी तरह यदि कोई subject पर यदि हम कुछ लिखना चाहे या फिर हम हमारा blog लिखना चाहे तो post के द्वारा हम यह कार्य कर सकते हैं

जैसे कोई न्यूज़ इस तरह की आई हो कि आगले वित्तीय वर्ष में बेंको में 5000 पद खली होने वाले हैं या भारतीय railway जल्द आपने रिक्त पदों को भरेगा  तो इस तरह की न्यूज़ को हम पोस्ट के माध्यम से लिख सकते है Post लिखने के लिए  + New नाम के option में post में जा सकते है. हमारी WordPress वेबसाइट में हमे एक post “Hello world!” नाम की पहले से save होती हैं जिसे delete या edit कर सकते हैं| post लिखते समय Categories का विशेष ध्यान रखना होता हैं Categories भी हमे ही सेट करनी होती हैं जैसा कि हम एक job portal बना रहे हैं तो categories भी उसी तरह की होना चाहिए जैसे Govt Job, Privet job, Bank etc निचे दिखाई दे रही विंडो के side  में  आप देख सकते हैं categories का option दिखाई दे रहा हैं

Page and Post creation

इस तरह से हम कई Post create कर सकते हैं हमारी वेबसाइट के लिए और  + Add New Categories में जाकर categories सेट कर सकते है.

Page and Post creation

Media: Post option के ठीक निचे आप देख सकते हैं Media नाम का option दिखाई दे रहा हैं जिसके माध्यम से आप image , video आदि  add कर सकते हैं आपकी website के लिए जिसका use किसी भी page या post पर किया जा सकता हैं  साथ ही media option के माध्यम से image library भी create कर सकते है.

Comments: अगला option comments आप देख सकते हैं आपके wordpress होम page पर जिसके माध्यम से आपके post या page पर आये comment को manage किया जा सकता हैं, जब भी कोई user आपकी post पर comment करेगा तो वो आपको इसी option में दिखाई देगा फिर आप उसे यहा से approve कर सकते है उसके बाद ही वह comment दुसरे user को दिखाई देने लगेगा|

Appearance: अगला option appearance का दिखाई देगा जिसके माध्यम से लगभग वही काम किया जा सकता है जो customize option के अंदर जाके हमने किया था जैसे menu widgets theme आदि