UPI एप क्या हैं जानकारी हिन्दी में

UPI यानि यूनिफाइड पेमेंट इंटरफ़ेस जिसे एनपीसीआई (भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम) ने बनाया हैं यह एक माध्यम है किसी भी बैंक के खाते में तुरंत पैसे भेजने का | इसके माध्यम से पैसे भेजने के लिए ना तो हमे सामने वाले के खाते का नंबर याद रखना होता है और ना ही IFSC कोड आदि तो चलिए जानते हैं क्या हैं UPI एप | UPI एप क्या हैं जानकारी हिन्दी में

UPI एप क्या हैं जानकारी हिन्दी में

UPI एप क्या हैं जानकारी हिन्दी में

अधिकतर बैंकों ने अपना अपना UPI एप्लीकेशन लांच कर दिया हैं, अगर आपके बैंक ने भी UPI एप लांच कर दिया है तो use सबसे पहले Play store से डाउनलोड कर लें | जब आप यह एप डाउनलोड कर लेंगे तो आपको इसमें रजिस्टर करते वक्त अपना मोबाइल नंबर एवं आधारकार्ड नंबर डालना होगा |

रजिस्टर करने के बाद आपको बैंक द्वारा एक यूनिक आईडी प्रोवाइड किया जायेगा जो इस तरह हो सकता है आपका मोबाइल नंबर@बैंक के शुरुआत के 3 अक्षर जैसे 9890xxxxxxx@SBI. आप इस ID के द्वारा पैसा बुलवा भी सकते है और भेज भी सकते हैं 50  रूपये से लेकर 1 लाख तक आप इस एप के माध्यम से भेज सकते हैं |

इन बैंकों में है UPI की सुविधा

आंध्रा बैंक, एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, भारतीय महिला बैंक, केनरा बैंक, कैथोलिक सीरियन बैंक, विजया बैंक, डीसीबी बैंक, फेडरल बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, टीजेएसबी सहकारी बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यस बैंक, कर्नाटक बैंक, यूको बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक, साउथ इंडियन बैंक बाकि की बैंक भी जल्द ही अपना UPI एप लांच करने जा रही है|

हमारी यह पोस्ट भी पढ़ें :

UPI app kya hain jankari hindi me

यदि हम हमारे देश को भ्रष्ट्राचार से मुक्त देखना चाहते हैं तो हमे ही प्रयास करना होंगे और सरकार की इस कैशलेस मुहीम से जुड़ना होगा हमारी यह पोस्ट “UPI एप क्या हैं जानकारी हिन्दी में”  जरुर आपको cashless बनने में मदद करेगी | इसी तरह की अन्य पोस्ट आप हमारे कैशलेस पेज पर पढ़ सकते हैं | अन्य पोस्ट को पढ़ने के लिए आप हमसे Facebook या twitter पर जुड़ सकते हैं या फिर हमे subscribe भी कर सकते हैं |

 

Paytm क्या हैं कैसे use करें

नमस्कार दोस्तों आज हम हमारी इस पोस्ट “Paytm क्या हैं कैसे use करें” में Paytm मोबाइल एप के बारे में जानेंगे | पिछले कुछ दिनों में आपने देखा होगा कि हमारी सरकार द्वारा कैशलेस लेनदेन को सफल बनाने के लिए कई कदम उठा रही हैं| सरकार का मानना हैं कि जितना ज्यादा से ज्यादा transaction cashless होंगे उतना ही हमारे देश की आर्थिक स्थिति को फायदा होगा ना तो ज्यादा नोट छापने होंगे और ना ही भ्रष्टाचार होगा |

हलाकि पूरी तरह से कैशलेस होना भारत में बहुत मुश्किल है पर जितना हमसे हो सकता हैं हमें करना चाहिए अगर हम इन्टरनेट,  स्मार्ट फ़ोन का इस्तेमाल करते हैं तो हमें इस बात की जरुर जानकारी होना चाहिए कि हम एक छोटे से मोबाइल एप से क्या क्या किया जा सकता हैं | आज हम बात करने जा रहे हैं Paytm एप की जिसकी चर्चा आप पिछले कई दिनों से TV, News, आदि में देख सुन रहे होंगे | आइये आज जानते हैं कि क्या हैं यह Paytm.

NEFT क्या है कैसे करें | RTGS क्या है कैसे करें 

Paytm क्या हैं कैसे use करें

Paytm क्या हैं कैसे use करें

Paytm एक मोबाइल एप्लीकेशन हैं जिससे हम निम्न कार्य कर सकते हैं |

  • मोबाइल, टीवी, डेटा कार्ड रिचार्ज करना |
  • टेलीफोन, बिजली, नल, गैस आदि का बिल भरना |
  • बस, ट्रेन, फ्लाइट, कार, होटल, इवेंट आदि की बुकिंग करना |
  • शॉपिंग, होलसेल शॉपिंग करना |
  • प्रोडक्ट बेचना |
  • किसी को पैसे भेजना या प्राप्त करना |

इसके आलावा आप और भी कई सारे काम हैं जो Paytm के माध्यम से कर सकते हैं| Paytm एक सुपर एप कांसेप्ट पर कार्य करती हैं यानि एक ही एप जिससे बहुत सा कार्य किया जा सके | उपरोक्त लेनदेन के लिए आप आपके बैंक खाते से पैसा paytm wallet में transfer करके कर सकते हैं या डायरेक्ट बैंक से कर सकते हैं |  paytm wallet में रखे पैसे से आप किसी शॉप पर भी भुगतान कर सकते हैं, जिसके लिए सिर्फ आपको सामने वाले का बारकोड स्कैन करना होगा |

इस एप को आप google play या फिर iPhone में app store से डाउनलोड कर सकते हैं, यह एक मुफ्त एप है |

Paytm को किसने बनाया

Paytm का आईडिया हैं मिस्टर विजय शेखर शर्मा का जिन्होंने Paytm को बनाया हैं | यह एप One97 नाम की कंपनी के तले बनाई गई हैं, Paytm का मतलब हैं Pay throw mobile यानि मोबाइल के द्वारा पेमेंट करना | कुछ समय पहले इस एप के माध्यम से सिर्फ मोबाइल टीवी आदि ही रिचार्ज किया जा सकता था किन्तु समय के साथ साथ इस एप में कई बदलाव किये गए जिनकी वजह से यह एप आज ट्रेंड में है |

Paytm kya hai kaise use karen

हमारे देश को Cashless बनाने में paytm का बहुत बड़ा योगदान हो सकता हैं यदि हम अधिक से अधिक लेनदेन paytm के माध्यम से करें एवं हमारे दोस्तों रिश्तेदारों को भी paytm use करना सिखाएं | हम जल्दी ही हमारी अगली पोस्ट में paytm से रिचार्ज करने एवं आदि कार्य को डिटेल्स में समझाने का प्रयास करेंगे | आज की हमारी यह पोस्ट “Paytm क्या हैं कैसे use करें” आपको कैसी लगी हमें जरुर बताएं एवं इस तरह की अन्य पोस्ट पड़ने के लिए हमसे Facebook या twitter पर जुड़ें |

बैंक में पैसा ट्रान्सफर कैसे करें

अगर हम हमारे देश को कैशलेस बनाना चाहते हैं तो हमे ही शुरुआत करना होगी अगर हम सब यह निर्णय ले लें कि हम हमारा ज्यादा से ज्यादा लेनदेन बिना नगदी के करेंगे तो यह बहुत जल्दी ही हमारे देश में लागु हो जायेगा | cashless होने के कई फायदें  हैं जो मैं आपको पिछली पोस्ट कैशलेस से जुड़े सवाल जवाब में बता चूका हूँ आइये आज हम इस पोस्ट बैंक में पैसा ट्रान्सफर कैसे करें के माध्यम से जानते हैं कि बैंक में एक खाते से दुसरे खाते में पैसे जमा करने की क्या प्रक्रिया हैं |

बैंक में पैसा ट्रान्सफर कैसे करें, क्या है प्रक्रिया

अगर हम किसी ऐसे व्यक्ति को पैसा भेजना चाहते हैं जिसका खाता उसी बैंक में हैं जहाँ आपका खाता है तो आप बड़ी ही आसानी से उसके खाते में पैसा transfer कर सकते हैं | इसके लिए आपको आपके खाते से राशि निकालने के लिए भरे जाने वाली पर्ची जिसे निकासी पर्ची या विड्रावल भी कहते हैं वह भरना हैं एवं जिसको आप पैसा भेजना चाहते हैं उसके खाते की जमा पर्ची |

इन दोनों पर्चियों को भरकर बैंक के किसी अधिकारी या कर्मचारी को देना हैं | वे आपके खाते से राशि निकाल कर सामने वाले के खाते में जमा कर देंगे | यह प्रक्रिया बहुत ही आसन हैं इसे कई लोग उपयोग में ला सकते हैं | इस प्रक्रिया का कोई शुल्क भी बैंक द्वारा नहीं लिया जाता हैं |

अब रही बात किसी दुसरे बैंक के खाते में पैसा भेजने की तो इसके लिए आपको RTGS या NEFT करना होगा जिसकी जानकारी मैं पूर्व में अपनी दो पोस्ट RTGS क्या हैं कैसे करें एवं NEFT क्या हैं कैसे करें में बता चूका हूँ |

बैंक में पैसा ट्रान्सफर कैसे करें

बिना बैंक जाये कैसे करें लेनदेन

आज के इस युग में हम कुछ भी करने की क्षमता रखते हैं तो बिना बैंक जाये बैंकिंग कार्य करना तो बहुत ही साधारण सी बात हैं, इसके लिए ना तो आपको कोई टेक्निकल नॉलेज की जरुरत हैं और ना ही किसी अन्य विशेष शिक्षण की आजकल तो आप सिर्फ एक साधारण से मोबाइल से भी लेनदेन कर सकते हैं एवं स्मार्टफ़ोन की मदद से तो आप पूरी बैंकिंग अपने मोबाइल के द्वारा कर सकते हो | आप हमारी यह पोस्ट मोबाइल बैंकिंग क्या हैं जरुर पड़ें यहाँ आपको मोबाइल से लेनदेन की पूरी जानकारी प्राप्त होगी |

आपको यह पोस्ट बैंक में पैसा ट्रान्सफर कैसे करें कैसी लगी हमें कमेंट के माध्यम से जरुर बताएं एवं अन्य cashless से सम्बंधित पोस्ट यहाँ से पड़ें | आप हमारी वेबसाइट की  नई पोस्ट पाने के लिए subscribe कर सकते हैं यह हमारा facebook page like करें |

लकी ग्राहक योजना क्या हैं

भारत सरकार ने Cashless लेन-देन को बढ़ावा देने के लिए २ योजनायें निकाली हैं लकी ग्राहक योजना क्या हैं

  1. लकी ग्राहक योजना
  2. डीजी धन व्यापर योजना

इन दोनों योजनाओं का मकसद सिर्फ यही हैं कि Cashless लेनदेन को ज्यादा से ज्यादा बढ़ावा मिले आइये जानते हैं क्या हैं यह योजना :

लकी ग्राहक योजना :

  • 25 दिसम्बर से शुरू होगी लकी ग्राहक योजना |
  • 15 हजार ग्राहक रोज जीत सकते हैं 1000 का इनाम |
  • 3 लकी ग्राहकों को क्रमशः 1 करोड़, 50 लाख एवं 25 लाख का इनाम |
  • 14 अप्रैल को होगी घोषणा लकी ग्राहक की |

डीजी धन व्यापर योजना :

  • डीजी धन व्यापर योजना व्यापारियों के लिए |
  • हर हफ्ते व्यापारी जीत सकते हैं 50 हजार तक का इनाम |

आप इन योजनाओं को हमारे प्रधानमंत्री जी द्वारा किये गए ट्विट से  भी समझ सकते हैं |

A Christmas gift to remember…these 2 schemes will further incentivise digital payments. https://t.co/sw1HpQ0hGU pic.twitter.com/QFYXXXx7P4

— Narendra Modi (@narendramodi) December 15, 2016

यह भी पढ़ें |

लकी ग्राहक योजना क्या हैं

डीजी धन व्यापार योजना क्या हैं 

Lucky grahak yojna kya hain

Diji Dhan vyapar yojna kya hai

लकी ग्राहक योजना क्या हैं

आप इन योजनायों के माध्यम से लाखों रूपये कमा सकते हैं आइये जानते हैं क्या हैं ये योजनायें …… लकी ग्राहक योजना क्या हैं 

चेक से भुगतान कैसे करें

जैसा कि हमने पिछली कुछ पोस्ट में पढ़ा कि  RTGS क्या होता है, NEFT क्या होता है, कैसे करें उसी कड़ी को आगे बड़ाते हुए आज हम कैशलेस लेन-देन से संबंधित महत्वपूर्ण एवं उपयोगी जानकारी हमारी इस पोस्ट “चेक से भुगतान कैसे करें” के माध्यम से प्राप्त करने की कोशिश करेंगे |

अगर किसी को कोई भुगतान करना हो तो उसे चेक द्वारा भुगतान करना बहुत ही आसान प्रक्रिया हैं जिसके लिए आपको सिर्फ अपनी बैंक जाकर चेकबुक आर्डर करना होगी| चेक बुक आर्डर करने के 8 से 10 दिन के अन्दर बैंक द्वारा आपकी चेक बुक आपके घर पर पहुंचा दी जाती हैं |

चेक से भुगतान कैसे करें

चेक से भुगतान कैसे करें चेक से पेमेंट पेमेंट

जब भी आप किसी को चेक से पेमेंट करते हैं तो ये निम्न जानकारी आपको होना चाहिए , साथ ही कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए जो हम आगे पड़ने जा रहे हैं |

  1. Pay/अदा करें में आपको उस व्यक्ति का नाम लिखना हैं जिसको आपको भुगतान करना हैं |
  2. Rupees/ रूपये में आपको शब्दों में रूपये लिखना हैं जितना आप भुगतान करना चाहते हैं |
  3. Date : चेक में प्रॉपर फॉर्मेट में ही Date लिखें जैसे यदि लिखा हो DD MM YYYY तो आपको  DD की जगह सिर्फ Date जैसे १४, १६ या फिर ०५, ०९ इस तरह से लिखना होगा. MM में महिना लिखें वो भी इस तरह होना चाहिए ०१, ०२,…. ११, १२ एवं YYYY में सन लिखें जैसे २०१६
  4. खाता नंबर आपको लिखने की जरुरत नहीं हैं आपकी चैकबुक में खाता नं पहले से ही अंकित होगा |
  5. अंकों में रूपये लिखें एवं खाली जगह को लाइन खींच दें ताकि कोई उसमें हेर फेर ना कर सकें |
  6. अगर कोई बड़ा पेमेंट देना हो तो आप चेक पर पारदर्शी टेप भी लगा सकते हैं जिससे आपका चेक छेड़छाड़ से बच सके |
  7. जहाँ तक संभव हो चेक को अकाउंट पेय कर के दें ताकि वह सिर्फ खाते में ही जमा हो, इसके लिए आप चेक के ऊपर २ लाइन खींच दें|
  8. चेक काटने के पूर्व यह जरुर नोट कर ले कि किसे चेक दिया हैं एवं कितने रूपये का चेक दिया हैं | चेक बुक में इस तरह का रिकॉर्ड रखने के लिए अलग से कुछ पेज होते हैं उन्हें इस्तेमाल करें |
  9. सबसे जरुरी बात चेक तभी काटें जब आपके खाते में पर्याप्त राशि हो ऐसा ना होने पर चेक बाउंस हो सकता हैं जिससे आपको बड़ा जुर्माना या जेल भी जाना पड़ सकता हैं |
  10. बैंक से खाते का स्टेटमेंट लेकर दिए गए चेकों का क्रॉस चेक जरुर करें |

तो देखा आपने कि चेक से भुगतान करने के लिए हमें क्या क्या जानकारी होना चाहिए एवं किस तरह से हमें सावधानियां बरतनी चाहियें | अगर हम इन सब बातों को ध्यान में रख कर चेक से पेमेंट या लेन – देन करेंगे तो नगदी की अपेक्षा वह ज्यादा सही होगा |

इस तरह की अन्य जानकारी आप हमारी वेबसाइट के  कैशलेस पेज पर पढ़ सकते हैं साथ ही आपको हमारी वेबसाइट पर वेबसाइट बनाने एवं वेबसाइट से कमाई करने के बारे में जानकारी प्राप्त होगी | हमारी निम्न पोस्ट जरुर पढ़ें |

आपको हमारी यह पोस्ट “चेक से भुगतान कैसे करें” कैसी लगी आप हमें कमेंट या facebook के माध्यम से बता सकते हैं | हमारा फेसबुक पेज Websiteinhindi जरुर लाइक करें ताकि आपको अन्य पोस्ट की जानकारी समय समय पर मिलती रहें |

मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

हेल्लो दोस्तों टेक्नोलॉजी के के इस दौर में आज हम बहुत आगे बढ़ गए हैं, हमारे बहुत से काम नई नई टेक्नोलॉजी के माध्यम से आसन होते चले जा रहे हैं | आज हम बात करेंगे मोबाइल बैंकिंग के विषय में और जानेंगे की कैसे मोबाइल बैंकिंग से हम बहुत से बैंकिंग कार्य घर बैठे कर सकते हैं| आइये जानते हैं कि मोबाइल बैंकिंग क्या हैं कैसे इसका उपयोग करें | मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

आज से कुछ वर्ष पहले हमे बैंक का कोई कार्य होता था तो हमे घंटो लाइन में लगना पड़ता था किन्तु जबसे इन्टरनेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग आये हैं यह कार्य घर बैठे किसी भी वक्त कर सकते हैं जिसके लिए ना तो हमे तेज धुप, बारिश ठण्ड में घर से निकलने की जरुरत होती है और ना ही घंटो समय बर्बाद करने की बस एक आसन से मोबाइल बैंकिंग एप को डाउनलोड करके हम यह कार्य कर सकते हैं, किन्तु आज भी हमारे देश में मोबाइल और इन्टरनेट बैंकिंग का उपयोग करने वालों का प्रतिशत बहुत कम है जिसका मुख्य कारण है टेक्नोलॉजी की समझ नहीं होना इसलिए आज मैं अपनी इस पोस्ट में आपको मोबाइल बैंकिंग के बारे में विस्तार से बताने की कोशिश करूँगा उम्मीद हैं आपको यह पोस्ट मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें” पसंद आएगी और देश को कैशलेस बनाने में आपको सहयोग करेगी |

हमारे देश में लगभग सभी बैंक अपने अपने ग्राहकों को मोबाइल बैंकिंग की सुविधा दे रही हैं आपका अकाउंट जिस किसी भी बैंक में है आप अपनी बैंक की शाखा में जाकर मोबाइल बैंकिंग के लिए आवेदन कर सकते हैं कुछ बैंक जो ऐसे हैं जहाँ मोबाइल बैंकिंग के लिए आवेदन भी करने की जरुरत नहीं है बस आप google play या Apple के  app store से मोबाइल बैंकिंग एप डाउनलोड करके रजिस्टर कर सकते हैं इन्ही में से एक बैंक हैं बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र जिसकी मोबाइल बैंकिंग एप से मैं आपको अवगत कराने जा रहा हूँ |

यह पोस्ट भी पड़ें……

बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र की मोबाइल बैंकिंग एप MAHAMOBILE के नाम से आप google या apple के app store पर खोज सकते हैं |

मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

अगर आप पहले से एप का उपयोग कर रहे हैं तो आप लॉग इन में जाकर लॉग इन कर साकते हैं और पहली बार उपयोग करने के लिए आपको इस एप के माध्यम से मोबाइल बैंकिंग रजिस्टर करना होगा इसके लिए New User Registration पर क्लिक करें |

मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

Yana aapko Mobile banking register karne ke 3 option dikhai de rahen hai.

यहाँ आपको मोबाइल बैंकिंग रजिस्टर करने के 3 आप्शन दिखाई दे रहें हैं | मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

  1. अगर आपके पास इन्टरनेट बैंकिंग है तो आप पहले आप्शन के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं |
  2. अगर आपके पास ATM कार्ड है तो ATM Card के माध्यम से भी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं |
  3. यदि आपके पास इन्टरनेट बैंकिंग या ATM नहीं हैं तो आपको आपकी शाखा में जाकर टोकन प्राप्त करना होगा |

सामान्यत: सभी के पास ATM कार्ड होता है तो हम एटीएम से रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस के बारे में समझेंगे |एटीएम से रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको २ नंबर का विकल्प चुनना होगा इससे आप इस स्क्रीन पर पहुँच जायेंगे | मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

यहाँ आपका ATM कार्ड no. और 4 डिजिट का पिन डालकर सबमिट करना हैं

मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

अब आपके सामने जो स्क्रीन ओपन होगी उसमे आपको MPIN सेट करना होगा जिससे आप आपकी मोबाइल बैंकिंग app को ओपन कर पाएंगे, इसके ठीक बाद आपके सामने MTPIN सेट करने का आप्शन आएगा MTPIN मोबाइल बैंकिंग से कोई transaction करने के लिए use किया जाता हैं |

मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

आपको Successful का यह massage दिखाई देगा इसका मतलब आप MPIN एवं MTPIN दोनों सेट हो गए हैं अब OK दबाकर मोबाइल बैंकिंग के होम स्क्रीन पर पहुँच जायेंगे |

मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें

अब आप मोबाइल बैंकिंग के Home पेज पर पहुँच गए है आप यहाँ बहुत से काम खुद ही कर सकते हैं जैसे बैलेंस जानना, बिल भुगतान करना, fund transfer करना, MPassbook, चेक बुक आर्डर करना जैसे बहुत से काम है जो कि इस app के माध्यम से हो सकते हैं |

यह बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र की मोबाइल बैंकिंग एप है जो एक बहुत ही सुरक्षित बैंकिंग service provide करती हैं आप भी अपनी निकटतम बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र में जाकर खाता खुलवा सकते हैं.

जैसा कि हमें बैंक ऑफ महाराष्ट्र की मोबाइल बैंकिंग एप के बारे में देखा उसी तरह सारी बैंक मोबाइल एप अपने ग्राहकों को उपलब्ध कराती है हर बैंक की मोबाइल बैंकिंग एप अलग हो सकती हैं किन्तु बैंक कोई भी हो कार्य सभी के एक सामान ही होते हैं जैसे ऊपर इमेज में आपने देखा |

आपको यह पोस्ट “मोबाइल बैंकिंग क्या है कैसे करें”  कैसी लगी हमें कमेंट के माध्यम से जरुर बताएं और इस तरह की अन्य पोस्ट पड़ने के लिए subscribe करें या हमारा facebook page like करें | Cashless Society बनाने के लिए हम निरंतर प्रयासरत हैं आप cashless page पर कई ऐसी पोस्ट पढ़ सकते हैं जो कि बहुत उपयोगी साबित हो सकती हैं |

NEFT kya hai kaise karen

Jaisa ki humne hamari pichli post RTGS kya hai kaise karen me RTGS ke baare me vistar se pada tha thik usi tarah hume is post “NEFT kya hai kaise karen” me NEFT ke bare me janenge. cashless transaction ko badava dene ke liye jaruri hain ki hume RTGS, NEFT, aadi ki sahi jankari ho taki hum hamara lenden sahi tarike se kar saken hume ummid hai ki aapko hamari any cashless category kee post pasand aa rahi hai.

NEFT kya hai kaise karen

आप यह पोस्ट हिन्दी में भी पढ़ सकते हैं : NEFT क्या है कैसे करें 

NEFT kya hai kaise karen

NEFT yahi National Electronic fund transfer, Jab bhi hume kisi ko rupye 2 lakh se kam bhejna hota hai to hum NEFT ke madhyam se bhej sakte hai iske liye bank me NEFT aur RTGS donon ke liye ek hee form hota hai. bank employe slip ko dekh kar process karte hain.

NEFT Aur RTGS dono me kya antar hain

  • NEFT aur RTGS me kuch antar hai jo is prakar hai.
  • RTGS rupye 2 lakh ya usse adhik ke liye hota hai jabki NEFT 2 lakh se kam amount ke liye.
  • RTGS karne ki samay seema 4:30 PM tak hoti hai jabki NEFT kii raat 8:00 tak.
  • RTGS NEFT ki apeksha jaldi settle ho jata hai par NEFT me kuch ghante ka samay lagta hai.

Iske alava Sari process RTGS evm NEFT me saman hee hoti hai.

हमारी अन्य पोस्ट भी पड़ें : –

Aapko yah post “NEFT kya hai kaise karen” kaise lagi humen comment ke madhyam se jarur batayen evm apne doston me share karna naa bhule. Cashless se sambandhit any post aap yahan se padh sakte hain ⇒ Cashless.  aap hamari post Facebook ke madhyam se bhi padh sakte hai jiske liye like karen humara Facebook Page ya hume twitter follow karen.

NEFT क्या हैं कैसे करें

जैसा कि हमने हमारी पिछली पोस्ट RTGS क्या हैं, कैसे करें में RTGS के बारे में विस्तार से पढ़ा था ठीक उसी तरह हम इस पोस्ट NEFT क्या हैं कैसे करें में NEFT के बारे में जानेंगे|Cashless Transaction को बढ़ावा देने के लिए जरुरी है कि हमें RTGS, NEFT आदि की सही जानकारी हो ताकि हम हमारा लेनदेन सही तरीके से करें हमें उम्मीद हैं कि आपको हमारी यह पोस्ट एवं अन्य Cashless category की पोस्ट पसंद आ रही हैं |

NEFT क्या हैं कैसे करें

NEFT क्या हैं कैसे करें

NEFT यानि नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फण्ड ट्रान्सफर, जब भी हमे किसी को रूपये २ लाख से कम भेजना होता हैं तो हम NEFT के माध्यम से भेज सकते हैं इसके लिए बैंक में NEFT और RTGS दोनों के लिए एक ही फॉर्म होता हैं| बैंक कर्मचारी Amount देखकर उसको प्रोसेस करते हैं |

NEFT और RTGS दोनों में क्या अंतर हैं

  • NEFT और RTGS में कुछ अंतर हैं जो इस प्रकार हैं
  • RTGS रूपये २ लाख या उससे अधिक के लिए होता है जबकि NEFT २ लाख से कम amount के लिए |
  • RTGS करने की समय सीमा 4:30 PM तक होती हैं जबकि NEFT की रात 8:00 तक होती है |
  • RTGS NEFT की अपेक्षा जल्दी settle हो जाता है पर NEFT में कुछ घंटे का समय लगता है |

इसके आलावा सारी प्रोसेस RTGS एवं NEFT में सामान ही होती है |

 

हमारी अन्य पोस्ट भी पड़ें : –

आपको यह पोस्ट “NEFT क्या हैं कैसे करें” कैसी लगी हमें कमेंट के माध्यम से जरुर बताएं, एवं अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूलें | cashless से सम्बंधित अन्य पोस्ट आप यहाँ से पढ़ सकते हैं  ⇒ Cashless.  आप हमारी पोस्ट Facebook के माध्यम से भी पढ़ सकते हैं जिसके लिए like करें हमारा Facebook Page या हमें twitter पर फॉलो करें |

 

RTGS kya hai kaise karen

Pichle kuch dino se aap akhbar TV aadi par dekh rahe honge ki hamare desh me 1000 evm 500 ke note band hone ke baad se cashless transactin teji se bad raha hai aur yahi sabse badiya samay hai jab hum cashless lenden karna seekh le taki bhavishy me hume kisi bhi tarah ke len-den me koi dikkat nahi aaye. humne yani hamari website www.websiteinhindi.com ne yah mudda uthaya hai ki hum cashless transaction ko badava dene ke liye har kisi ko cashless lenden sikhanae ka prayas karene. hamari yah post “RTGS kya hai kaise karen” isi kadi ki pahle post hai aap aage aur bhi kai gyanvardhak jankari prapt karenge. hume ummid hai aapko hamari yah post evm any post pasand aayegi.

आर.टी.जी.एस. क्या हैं कैसे करें (यह पोस्ट हिन्दी में भी उपलब्ध हैं )

RTGS kya hai kaise karen

RTGS ka matlab hota hai Real time gross settlement, jab bhi aapko kisi ko rupye 2 lakh ya usse adhik ka payment karna ho ya kisi se prapt karna ho to aap RTGS ke madhyam se paisa bhej ya mangva sakte hain. is tarah se aap ittna adhik cash lane le jane ke risk se to bachte hee hain aur aapke samay paise aadi ki bachat hoti hai.

Is tarah se paise bhejne ya bulvane ka ek aur accha fayda hai vah yah ki aap jo bhi len-den kar rahe hain vah sabkuch surakshit aur sahi hota hai.

Bank me RTGS ka form kaise bhare

Alag alag banko me RTGS ke alag alag form hote hai kintu jankari sabhi me lagbhag ek saman hoti hai, aaiye aapko dikhate hain ki Bank of Maharashtra me RTGS ka form kis tarah bhara jata hai.

RTGS kya hai kaise karen

Is RTGS ki Slip me aap dekh sakte hain Name, Address, A/c No. ke alava kuch any jankari bhi mangi gai hai jo hum niche padne ja rahe hain.

IFSC Code kya hota hai ?

IFSC Code yani kisi bhi branch ka unique code yah 11 digit ka hota hai isme pahle 4 word Bank ka code hote hai aur uske baad ka code branch ka code. IFSC code aapko aapki passbook ya cheque book par mil sakta hai.

Beneficiary Name kya hota hai?

Aap Jise RTGS ke madhyam se paisa bhejna chahte hai uska naam Beneficiary Name ki jagah likhna hoga. is tarah yah form bharkar aap kisi ko bhi 2 lakh ya usse adhik paisa bhej sakte hain ya saamne wale ko yah prakriya batakar paisa mangwana ho to mangwa sakte hai.

yah post “RTGS kya hai kaise karen” aapko kaise lagi hume jarur batayen taki hum aur behtar post aapke liye likh saken. hum demonetization ke is faisle ka swagat karte hain aur ummid karte hain ki aap jyada se jyada cashless transaction karen. Post pasand aaye to share karna naa bhule.

RTGS क्या हैं, कैसे करें

पिछले कुछ दिनों से आप अखबार, टीवी आदि पर देख रहे होंगे कि हमारे देश में 1000 एवं 500 के नोट बंद होने के बाद से cashless transaction तेजी से बड़ रहा हैं, और यही सबसे बढ़िया समय हैं जब हम कैशलेस लेन-देन करना सीख ले ताकि भविष्य में हमे किसी भी तरह के लेन-देन में कोई दिक्कत ना आये| हमने यानि हमारी वेबसाइट हिन्दीभाषा.com  ने यह मुद्दा उठाया हैं कि हम cashless transaction को बढावा देने के लिए हर किसी को कैशलेस लेन-देन सिखाने का प्रयास करेंगे | हमारी यह पोस्ट  “RTGS क्या हैं, कैसे करें” इसी कड़ी की पहली पोस्ट हैं| आप आगे और भी कई ज्ञानवर्धन जानकारी प्राप्त करेंगे | हमें उम्मीद हैं आपको हमारी यह पोस्ट एवं अन्य पोस्ट पसंद आएगी |

RTGS क्या हैं, कैसे करें

RTGS यानि रियल टाइम ग्रॉस सेटेलमेंट, जब भी आपको किसी को रूपये २ लाख या उससे अधिक का भुगतान करना हो या किसी से प्राप्त करना हो तो आप RTGS के माध्यम से पैसा भेज या बुला सकते हैं| इस तरह से आप इतना अधिक कैश लाने ले जाने के की रिस्क से तो बचते ही हैं और आपके समय पैसे आदि की बचत होती हैं |

इस तरह से पैसे भेजने या बुलवाने का एक और अच्छा फायदा हैं वह यह कि आप जो भी लेन-देन कर रहें हैं वह सबकुछ सुरक्षित और सही होता है |

बैंक में RTGS का फॉर्म कैसे भरें

अलग अलग बैंको में RTGS के अलग अलग फॉर्म होते हैं किन्तु जानकारी सभी में लगभग एक सामान होती हैं ,आइये आपको दिखाते हैं बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र में RTGS का फॉर्म किस तरह भरा जाता हैं |

RTGS क्या हैं, कैसे करें

इस RTGS की स्लिप में आप देख सकते हैं नाम, पता, खाता नंबर के आलावा कुछ अन्य जानकारी मांगी गई है जो हम निचे पड़ने जा रहे हैं |

IFSC कोड क्या होता है ?

IFSC कोड यानि किसी किसी भी ब्रांच का यूनिक कोड | यह 11 डिजिट का होता है इसमें पहले 4 Word बैंक का कोड होते हैं और उसके बाद ब्रांच का कोड | IFSC कोड आपको आपकी पासबुक या चेक बुक पर मिल सकता हैं |

Beneficiary Name क्या होता है ?

आप जिसे RTGS के माध्यम से पैसा भेजना चाहते हैं उसका नाम beneficiary Name की जगह लिखना होगा | इस तरह यह फॉर्म भरकर आप किसी को भी २ लाख या उससे अधिक पैसा भेज सकते हैं  या सामने वाले को यह प्रक्रिया बताकर पैसा मंगवाना हो तो मंगवा भी सकते हैं|

यह पोस्ट “RTGS क्या हैं, कैसे करें” आपको कैसी लगी हमें जरुर बताएं ताकि हम और बेहतर पोस्ट आपके लिए लिख सकें | हम Demonetization के इस फैसले का स्वागत करते हैं और उम्मीद करते हैं कि आप ज्यादा से ज्यादा cashless transaction करें | पोस्ट पसंद आये तो share करना ना भूलें |

कैशलेस लेन-देन से जुड़े सवाल-जवाब

मुझे एक व्यक्ति को 4 लाख रूपये देने हैं क्या करूँ..?

  • आप अपने बैंक जाकर उसके खाते में  RTGS के माध्यम से पैसे भेज सकते हैं |
  • आप उसे चेक द्वारा भुगतान कर सकते हैं |

अगर मुझे किसी को 50 हजार का भुगतान करना हो तो क्या करूँ…?

  • आप अपने बैंक जाकर उसके खाते में NEFT कर सकते हैं|
  • आप UPI App के माध्यम से पैसे भेज सकते हैं|
  • आप उसे चेक काटकर दे सकते हैं |
  • आप मोबाइल बैंकिंग, इन्टरनेट बैंकिंग आदि के माध्यम से भुगतान कर सकते हैं

Note : रूपये २ लाख या उससे अधिक के लिए बैंक में RTGS होगा और २ लाख से कम के लिए NEFT

मुझे बिजली/टेलीफोन/नल आदि का बिल भरना हैं कैसे करूँ…?

बिल पेमेंट के लिए कई सारे विकल्प मोजूद हैं जो निम्न हैं

  • SBI Buddy App Download करके उससे Recharge करें
  • Paytm, Mobiquick, Freecharge इनमे से कोई download करके कर सकते हैं |
  • सम्बंधित website या app के माध्यम से Recharge करें  जैसे Airtel, DishTV, BSNL आदि |

मुझे बच्चों की स्कूल/ट्युशन फ़ीस जमा करनी हैं कैसे करूँ …?

  • आप स्कूल/ट्युशन के नाम का चेक काट सकते हैं|
  • बैंक ड्राफ्ट के माध्यम से भी फ़ीस जमा कर सकते हैं |
  • क्रेडिट या डेबिट कार्ड स्वपे करवा के फ़ीस जमा करवा सकते हैं |

ऑफलाइन शॉपिंग कैसे करूँ बिना कैश के ..?

आप अधिकतर पेमेंट चेक या  डेबिट/क्रेडिट कार्ड के माध्यम से कर सकते हैं पर खेरची वस्तुओं के लिए आपको नगदी साथ रखना होगी जैसे दूध वाला, पेपर वाला, किराने वाला आदि इसके आलावा जहाँ संभव हो cashless Transaction पर ही जोर दें ताकि हम जो भी Product/service use करें govt के पास उसका पूरा रिकॉर्ड हो |

कैशलेस लेन-देन से जुड़े सवाल-जवाब

कैशलेस लेन-देन से जुड़े सवाल-जवाब

इसके आलावा आप निम्न services को भी बिना नगदी खर्च किये use कर सकते हैं |

  • Hotel booking
  • Movie tickets
  • Train Tickets
  • Flight Tickets
  • Car and Bikes booking
  • Gas Bill
  • Metro
  • Insurance

इसके आलावा और भी कई सेवाओं को बिना नगदी खर्च के use किया जा सकता हैं, आप  Paytm, IRCTC, OlACABS, Goibibo जैसी Apps use कर सकते हैं | कैशलेस लेन-देन से जुड़े सवाल-जवाब

आपको हमारी यह पोस्ट “कैशलेस लेन-देन से जुड़े सवाल-जवाब” कैसी लगी हमें कमेंट के माध्यम से जरुर बताएं | आप हमें subscribe कर सकते हैं या  हमारा facebook page भी like कर सकते हैं |

 

Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi

Hello friends technology ke is daure me aaj hum bahut aage bad gaye hai hamare bahut se kaam nai nai technology ke madhyam se aasan hote chale jaa rahe hai aaj hum baat karenge mobile ke vishay me or janenge ki kaise mobile banking se hum bahut se banking kary ghar baithe aasani se kar sakte hai. aaiye jante hai Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi me.

Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi

Aaj se kuch varsh pahle hume bank ka koi kary hota tha to hume ghanto line me lagna padta tha kintu ja bse internet banking or mobile banking aaye hai yah kary ghar baithe kisi bhi vakt kar sakte hai jiske liye naa to hume tej dhoop , barish,thand, me ghar se nikalne kee jarurat hoti hai or naa hee ghanto samay barbaad karne kee bas ek aasan se mobile banking app download karke hum yah kary kar sakte hai kintu aaj bhi hamare desh me mobile or internet banking ka upyog karne walo ka pratishat bahut kam hai jiska mukhy kaarn hai technology kee samajh nahi hona isliye aaj main apni is post me aapko mobile banking ke baare me vistar se batane kee koshish karunga. ummid hai aapko yah post” Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi ” pasand aayegi.

Hamare desh me lagbhag sabhi bank apne grahako ko mobile banking kee suvidha de rahi hai aapka account jis kisi bhi bank mai hai aap apni banki ki shakha me jakar mobile banking ke liye aavedan kar sakte hai kuch bank to aise hai jahan mobile banking ke liye avedan bhi karne kee jarurat nahi hai bas aap google play ya apple ke ap store se mobile banking app download karke register kar sakte hai inhe me se ek bank hai Bank of Maharashtra jiski mobile banking app se aaj main aapko avgat karaunga.

यह पोस्ट भी पड़ें……

Bank of Maharashtra kee mobile app aap MAHAMOBILE ke naam se google ya app store me search karke download kar sakte hian.

Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi

Agar aap pahle se is app ka use kar rahe hai to aap login me jakar logi kar sakte hai or pahli baar upyog karne ke liye aapko is ap ke madhyam se mobile bankig register karna hoga jiske liye New user registration par click karen.

Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi

Yana aapko Mobile banking register karne ke 3 option dikhai de rahen hai.

  1. Agar aapke paas internet banking hai to aap pahle option ke madhyam se registration kar sakte hain.
  2. Aap aapke ATM card ka use karke bhi registration kar sakte hain.
  3. Yadi aapke paas internet banking or ATM nahi hai to aap aapki shakha me jakar token prapt kar sakte hain.

Samanytah: sabhi ke paas ATM card hota hai to hum ATM se registration kee process ke bare me samjhenge. ATM se registration karne ke liye aap dusra option select karenge to aapko yah screen dikhai degi.

Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi

Yahan aapka ATM card no. or 4 digit pin dalkar submit karna hai.

Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi

Ab aapke saamne jo screen open hogi usme aapko MPIN set karna hoga jisse aap aapki mobile banking app ko open kar payenge iske thik baad aapke samne MTPIN set karne ka option aayega MTPIN mobile banking se koi transaction karne ke liye kiya jaata hai.

Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi

Aapko successful ka yah massage dikhai dega iska matlab aapka MPIN or MTPIN dono set ho gaye hai ab OK dabakar mobile banking kee home screen pah pahuch jayenge.

Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi

 

Ab aap mobile banking ke home page par pahuch gaye hai aap yaha bahut se kaam khud hee kar sakte hai jaise balance jaanna , bill bhugtan karna, fund transfer karna, MPassbook, cheque book order karna jaise bahut se kaam hai jo ki is app ke madhyam se kiye ja sakte hai.

Yah Bank of Maharashtra kee mobile banking app hai jo ek bahut hee secure mobile banking service provide karti hai aap bhi apni nikattam Bank of Maharashtra me jakar khata khulva sakte hai.

Jaise ki humne Bank of maharashtra kee mobile banking app ke baare me dekha use tarah saari bank mobile app apne grahakon ko uplabdh karati hai har bank ki mobile bankig app alalg ho sakti hai kintu bank koi bhi ho kary sabhi ke ek saman hee hote hai jaise upar image me aapne dekha.

Aapko yah post “Mobile banking kya hai kaise use kare Hindi” kaise lagi hume comment ke madhyam se jarur bataye.

Web design courses Hindi

Hello friends in this post I would like to tell you that I have a complete and free web design courses in my website that is www.websiteinhindi.com this website is specially developed for those students who want to become a web Continue reading “Web design courses Hindi”

SubDomain क्या होता है कैसे बनायें

दोस्तों आपका स्वागत है websiteinhindi.com की इस post SubDomain क्या होता है कैसे बनायें  में, जैसा कि पिछली कुछ post में मैंने आपको बताया कि वेबसाइट बनाने के लिए सबसे पहले domain name होना जरूरी हैं, और बिना domain name ख़रीदे आप खुद की वेबसाइट नहीं बना सकते | domain के अलावा Sub-Domain एवं Addon Domain का भी बहुत महत्त्व हैं|आज हम इस post में SubDomain को समझने का प्रयास करेंगे |

SubDomain क्या होता है कैसे बनायें

आपने देखा होगा अक्सर कई वेबसाइट अलग अलग सर्विस प्रदान करने के लिए अलग अलग वेबसाइट ना बनाकर अपने main domain के तले subdomain बनाती हैं जैसे Google एक वेबसाइट है लेकिन उसकी कई सारी services हैं जिनके लिए google ने अलग वेबसाइट ना बनाकर sub domain बना रखें हैं जैसे :

  • mail.google.com for Gmail
  • adsense.google.com for Google Adsense
  • image.google.com for Image search
  • maps.google.com for Google Map
  • video.google.com for Google Videos
  • site.google.com for Google Site
  • adword.google.com for Google Adword

इसी तरह और भी कई SubDomain हैं google के | यह देख कर आप इतना तो समझ ही गए होंगे कि Sub.domain क्या होता हैं sub domain के कई use हैं अगर आप कोई वेबसाइट बनाते हैं और उसका किसी और language में भी publish करना चाहते हैं तो आप इस तरह कर सकते हैं hindi.yourwebsite.com या फिर english.yourwebsite.com.

Sub Domain कैसे बनाते हैं

आपकी वेबसाइट के लिए Sub domain बनाने के पहले आपको यह बात पता होना चाहिए कि आपका hosting plan जो हैं वह कितने sub domain allow करता हैं या करता भी हैं या नहीं | (Web Hosting क्या होती है )कुछ Web hosting provider अपने यूजर को limited sub domain की facility देते हैं तो कुछ sub domain allow ही नहीं करते ऐसे में आपको यदि sub domain की जरुरत हो तो hosting खरीदते वक्त ध्यान रखें कि आपको सबडोमेन की सुविधा मिल रही हैं या नहीं | मैं जिस hosting का Use करता हूँ वह वाकई में बहुत ही बढ़िया सर्विस देती हैं मुझे लगभग 3००० प्रति वर्ष के plan में unlimited space के साथ unlimited sub domain की facility भी मिल रही हैं : My Hosting Provider

Sub Domain Create करने के लिए आपको आपके hosting account या cPanel में login करना पड़ेगा मैंने जो hosting खरीदी है वह मुझे cPanel provide करती हैं तो मैं उसमे login करके यह कर सकता हूँ| अगर आपको भी आपके hosting provider द्वारा cPanel की login detail दी गई हैं तो आप भी उसी में login करें अथवा hosting account की website पर login करें

cPanel में login करने के बाद क्या करें

  • cPanel में login करने के बाद आपको Domain वाले section में जाना हैं जहाँ आपको सभी domains के option दिखाई देंगे जिनमे से subdomains को select कर लीजिये |
  • SubDomain क्या होता है कैसे बनायें
  • Subdomains select करने के बाद आपके सामने के छोटा सा फॉर्म आएगा जिसमे आपको sub domain add करना हैं जैस निचे दिखाया गया हैं
  • SubDomain क्या होता है कैसे बनायें
  • यहाँ पर मैंने subdomain की जगह पर jobs टाइप किया जिससे मेरा नया domain jobs.careerinhindi.com बन जायेगा |
  • दूसरा option हैं domain जहाँ से आप मैं domain select कर सकते हैं जैसे मैने careerinhindi.com को select किया जो की मेरी वेबसाइट हैं |
  • Document Root में आपको कुछ नहीं करना हैं यहाँ आपको subdomain दिखाई देगा |
  • अब इतना करने के बाद create पर क्लिक कर दें जिससे आपका sub domain तैयार हो जायेगा |
  • अब आप अपने नए subdomain पर एक अलग वेबसाइट या ब्लॉग बना सकते हैं जिसके लिए आपको App installer में जाकर WordPress या कोई और CMS install करना होगा | (hosting account पर wordpress कैसे install करें)

आपको हमारी यह post SubDomain क्या होता है कैसे बनायें कैसे लगी हमें कमेंट के माध्यम से जरुर बताएं | इसी तरह की अन्य post पड़ने के लिए हमारी वेबसाइट पर subscribe करें या हमारा Facebook Page like करें | subdomain kya hota hai, subdomain details in hindi. subdomain kaise banaya jata hai. subdomain kya hai. 

Feedburner क्या है कैसे use करें

Hello Friends आपका फिर एक बार स्वागत है websiteinhindi.com में I hope कि आपको हिन्दी में publish की गई मेरी अन्य post पसंद आ रहीं होंगी| मेरा यही उद्देश्य है कि मैं आपको हमारी मात्रभाषा हिन्दी में Technology से जुडी जानकारी देता रहूँ, इसलिए आज मैं उन लोगों के लिए एक जरुरी article लिख रहा जो लोग अपना blog या website बनाकर मेरी तरह दूसरों की मदद करते हैं | आज इस पोस्ट Feedburner क्या है कैसे use करें में हम feedburner से जुडी कुछ बेसिक जानकारी प्राप्त करेंगे | feedburner kya hai 

Feedburner गूगल की ही एक free service हैं जिसकी मदद से आप आपके blog या website को ज्यादा बेहतर बना सकते हैं और traffic भी बड़ा सकते हैं, और website या blog का traffic बड़ना यानी आपकी online earning बड़ना | तो चलिए जानते हैं कि Feedburner क्या है कैसे use करें | feedburner kaise use karen

Feedburner क्या है कैसे use करें

जब भी आप कोई ब्लॉग या वेबसाइट बनाते हैं तो आपको आपके नए आर्टिकल आपके subscriber तक पहुँचाने  का काम Feedburner करता हैं | feedburner आपके subscriber बड़ाने का काम तो करता ही है साथ ही आपके  subscriber को नई पोस्ट  या आर्टिकल भी ईमेल के द्वारा उनको भेजता हैं |

जब  भी हम हमारी वेबसाइट या ब्लॉग पर new article लिखते हैं तो गूगल द्वारा हमारे subscriber को एक ईमेल भेज दिया जाता है जिसमे हमारी नई पोस्ट की जानकारी होती हैं | subscriber के ईमेल में new article की summary भेजना हैं या full article भेजना हैं यह हम WordPress की setting > Reading में जाकर सेट कर सकते हैं | देखिये इस इमेज में |

Feedburner क्या है कैसे use करें

सिर्फ ईमेल में ही नहीं बल्कि बल्कि इस सुविधा के द्वारा RSS feed से सम्बंधित अन्य सॉफ्टवेर द्वारा भी यूजर हमारी वेबसाइट या ब्लॉग के नए article पढ़ सकते हैं  या नए article publish होने की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

Feedburner कैसे use करें 

इसके लिए आपको https://feedburner.google.com पर जाकर आपके google account से login करना होगा login करने पर आपके सामने यह webpage open होगा |

Feedburner क्या है कैसे use करें

 

अगर आपने किसी अन्य अकाउंट के द्वारा आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को रजिस्टर किया हुआ है तो आप Claim your feeds now option का use करके आपके ब्लॉग को new अकाउंट पर move करा सकते हैं | और यदि आपने पहले से ही किसी ब्लॉग को यहाँ add किया हुआ है तो वह यहाँ दिखाई देगा |

Claim your feeds के ठीक निचे आप अपने ब्लॉग का URL डालकर उसे feedburner में जोड़ सकते हैं | इसके ठीक बाद कुछ basic step follow करके आप आपके ब्लॉग को feedburner  पर successfully add कर सकते हैं|

Feedburner पर अकाउंट बनाकर अपनी वेबसाइट या ब्लॉग add करना होगा जब आप यह process कर ले तो आपको feedburner पर कई option दिखाई देंगे जिनकी मदद से आप subscriber code, feed code आदि प्राप्त करके अपनी वेबसाइट या ब्लॉग पर लगा सकेंगे | feedburner के और भी कई option है जिनके विषय में हम जल्द ही अगली पोस्ट में बात करेंगे, तब तक आप हमारी अन्य उपयोगी पोस्ट पड़ते रहें |

यह पोस्ट Feedburner क्या है कैसे use करें आपको कैसी लगी हमें जरुर बताएं अपनी राय कमेंट के माध्यम से बताएं | इसी तरह की अन्य पोस्ट हिन्दी में पड़ने के लिए आज ही subscribe करें या हमारा Facebook page like करें | feedburner detail in hindi